महा शिवरात्रि Date: बुधवार, 26 फरवरी 2025

महाशिवरात्रि, हिंदू धर्म का एक महत्वपूर्ण त्योहार, जो आध्यात्मिक जागरण और मोक्ष प्राप्ति का प्रतीक है। यह त्यौहार फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता है।

महाशिवरात्रि का महत्व:
आध्यात्मिक जागरण: इस दिन भक्त शिवरात्रि का व्रत रखकर भगवान शिव की पूजा करते हैं। मान्यता है कि इस दिन भगवान शिव अपनी दिव्य शक्तियों का प्रसार करते हैं और भक्तों को उनकी कृपा प्राप्त होती है।
पापों से मुक्ति: शिवरात्रि का व्रत पापों से मुक्ति दिलाने वाला माना जाता है।
मोक्ष प्राप्ति: इस दिन भगवान शिव की पूजा करने से मोक्ष प्राप्ति की संभावना बढ़ जाती है।

महाशिवरात्रि की कथाएं:
शिव-पार्वती विवाह: एक कथा के अनुसार, इसी दिन भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था।
अग्निलिंग का उदय: एक अन्य कथा के अनुसार, इसी दिन अग्निलिंग का उदय हुआ था।
भगवान शिव का तांडव: एक अन्य कथा के अनुसार, इसी दिन भगवान शिव ने तांडव किया था।

महाशिवरात्रि की पूजा:
व्रत: इस दिन भक्त शिवरात्रि का व्रत रखते हैं।
पूजा: भक्त भगवान शिव की पूजा करते हैं।
भजन-कीर्तन: भक्त भगवान शिव के भजन-कीर्तन करते हैं।

महाशिवरात्रि का उत्सव:
शिवालयों में विशेष आयोजन: शिवालयों में विशेष आयोजन किए जाते हैं।
जागरण: कई स्थानों पर भगवान शिव का जागरण आयोजित किया जाता है।
मेला: कई स्थानों पर मेला लगता है।

निष्कर्ष:
महाशिवरात्रि आध्यात्मिक जागरण और मोक्ष प्राप्ति का पर्व है। यह त्यौहार हमें भगवान शिव की कृपा प्राप्त करने और मोक्ष प्राप्ति की संभावना बढ़ाने का अवसर देता है।

Comments

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी