सब राजन के राजा

सब राजन के राजा

सब राजन के राजा,तुम हो सब राजन के राजा,आपे आप ग़रीब नवाज़ा,सब राजन के राजा,तुम हो सब राजन के राजा महाकाल रखवार हमारो,महालोह मैं किंकर थारो,अपना जान करो रखवार,बहि गहे की लाज विचार,सब राजन के...

शंभू नाथ मेरे दीनानाथ मेरे भोले नाथ मेरे आ जाओ

शंभू नाथ मेरे दीनानाथ मेरे भोले नाथ मेरे आ जाओ

शंभू नाथ मेरे, दीनानाथ मेरे, भोले नाथ मेरे आ जाओभक्त तेरे पर विपदा भारी, आके कष्ट मिटा जाओओम नमः शिवाय हरी ओम नमः शिवाय डम डम तेरा डमरू बाजेजिसपे सारी सृष्टि नाचेमनका पड़े जब जब...

गोरा पिलादे भाँग

गोरा पिलादे भाँग

आज करदे दूर मलाल, पिलादे भाँग मने रे गोराहो जागा घणा कमाल, पिलादे भाँग मने रे गोरा तू मन अपने ने समझाले, पार्वती…इब कुंडी सोटे ने ठाले, पार्वती…हो जा सब दूर बबाल, पिलादे भाँग मने...

शंकर का डमरू बाजे रे कैलाशपति शिव नाचे रे

शंकर का डमरू बाजे रे कैलाशपति शिव नाचे रे

शंकर का डमरू बाजे रे।कैलाशपति शिव नाचे रे॥ जटाजूट में नाचे गंगा ।शिव मस्तक पर नाथे चंदा॥नाचे वासुकी नीलकंठ पर,नागेश्वर गल साजे रे,शंकर का… सीस मुकुट सोहे अति सुंदर।नाच रहे कानन में कुंडल॥कंगन नूपुर चर्म-ओढ़नी,भस्म...

भोलेनाथ मेरा बड़ा भोलाभाला

भोलेनाथ मेरा बड़ा भोलाभाला

भोलेनाथ मेरा बड़ा भोलाभाला,सब कहते हैं इसे डमरूवाला,भोलेनाथ मेरा………2 विष से पड़ा सुर असुरों का पाला,पिया था हलाहल मेरा शिव मतवाला-2कोई तेरे जैसा ना विष पीनेवालाभोलेनाथ मेरा…………2 कैलाश पर्वत पे आसन लगाया,गंगाजी को जटा में...

कह देना डमरू वाले से तेरे द्वार पुजारी आया है

कह देना डमरू वाले से तेरे द्वार पुजारी आया है

कह देना डमरू वाले से तेरे द्वार पुजारी आया है,तेरे द्वार पुजारी आया है तेरे द्वार पुजारी आया है, ना थाली है ना लोटा है,ना थाली है ना कलशा,खाली हाथों पुजारी आया है,तेरे द्वार पुजारी...

भोले बाबा हमारे मिलेंगे

भोले बाबा हमारे मिलेंगे

प्रेम भक्ति से मिलकर पुकारो,भोले बाबा हमारे मिलेंगे।तन में भस्मी भभुति रमाये,नाग गर्दन में धारे मिलेंगे। वो हैं दाता जगत है भिखारी,सब हैं उनके चरण के पुजारी,उनकी चौखट पे ये दुनिया वाले,अपनी झोली पसारे मिलेंगे।...

म्हारा उज्जैन का महाराजा ने,खम्मा रे खम्मा,

म्हारा उज्जैन का महाराजा ने,खम्मा रे खम्मा,

म्हारा उज्जैन का महाराजा ने,खम्मा रे खम्मा,भक्तां लाडीला महाकाल जी ने,खम्मा रे खम्मा,खम्मा रे खम्मा घणी रे खम्मा,म्हारां उज्जैन का महाराजा ने,खम्मा रे खम्मा ॥ ओ बाबा उज्जैन ने खम्मा,मैया क्षिप्रा जी ने खम्मा,बाबा राम...

भूतनाथ के द्वारे पे

भूतनाथ के द्वारे पे

भूतनाथ के द्वार पे जो भी,अपना शीष, झुका देता है,चिन्ताओं की सारी लक़ीरें,बाबा भूतनाथ मिटा देता है……. ज़माने की ठोकरें,जो खाकर के हारा,वो इस दर पे आकर,ना रहता बेचारा,भूतनाथ से, बढ़के न कोई,देव है अलबेला,कोई...

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह