जय जय गणपति गजानन्द तेरी जय होवे,
जाऊं तोपे बलिहारी तेरी जय होवे……

रिद्धि सिद्धि के दाता आप कहाते हो,
बिगड़ी हमसब की बाबा आप बनाते हो,
जय जय गिरिजा के नंदन तेरी जय होवे…….

तेरा गजमुख रूप सभी भक्तों को भाया है,
सब देवो ने मिलकर गुणगान सुनाया है,
तेरी सुंदर मोहिनी मूरत तेरी जय होवे……

सेवा में खड़े है तेरी आज पधारो जी,
गोते खाये ये नैया आज सम्भालो जी,
कही डूब ना जाये जीवन तेरी जय होवें…….

जय जय गणपति गजानन्द तेरी जय होवे,
जाऊं तोपे बलिहारी तेरी जय होवे……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह