आरती श्री नवग्रहों की कीजै. बाध,
कष्ट,रोग,हर लीजै ।

सूर्य तेज़ व्यापे जीवन भर.
जाकी कृपा कबहु नहिं छीजै।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

रुप चंद्र शीतलता लायें.
शांति स्नेह सरस रसु भीजै।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

मंगल हरे अमंगल सारा.
सौम्य सुधा रस अमृत पीजै ।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

बुद्ध सदा वैभव यश लीये.
सुख सम्पति लक्ष्मी पसीजै।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

विद्या बुद्धि ज्ञान गुरु से ले लो
. प्रगति सदा मानव पै रीझे।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

शुक्र तर्क विज्ञान बढावै.
देश धर्म सेवा यश लीजे ।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

न्यायधीश शनि अति ज्यारे.
जप तप श्रद्धा शनि को दीजै ।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

राहु मन का भरम हरावे.
साथ न कबहु कुकर्म न दीजै ।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

स्वास्थ्य उत्तम केतु राखै.
पराधीनता मनहित खीजै ।

॥ आरती श्री नवग्रहों की कीजै.. ॥

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह