जय गोरी लाल जय गोरी लाल जाओ गोरी लाल
सब नु ही करदा निहाल
जय गोरी लाल जय गोरी लाल जाओ गोरी लाल

मथे चन्दन तिलक विराजे गल पुष्पा दी माला साजे,
सूरत बड़ी ही कमाल जय गोरी लाल जय गोरी लाल जाओ गोरी लाल

पान फूल चड़े चडता है मेवा सनंत सारे करदे ने सेवा
चड दे लडदुआ दे थाल
जय गोरी लाल जय गोरी लाल जाओ गोरी लाल

राजू भी हरिपुरिया ध्यावे लवन हिया गणपति मंगल गावे
दिंदा है संकट नु टाल,
जय गोरी लाल जय गोरी लाल जाओ गोरी लाल

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा
गौरी व्रत

गुरूवार, 11 जुलाई 2024

गौरी व्रत
देवशयनी एकादशी

बुधवार, 17 जुलाई 2024

देवशयनी एकादशी

संग्रह