हारा वालिया बंद दरवाजे खोल,
बंसरी वालिया बंद दरवाजे खोल,
मै तेरी तु मेरा बन जा,
होर किसे दी ना लोड,
हारा वालिया बंद दरवाजे खोल….

साड़े नालो पुजारी चंगे करदे तेरी पूजा,
मैनु अपना दास बनाले,
समझी ना कोई दूजा,
हारा वालिया बंद…….

तेरे रिस्तेदार वे श्यामा लगदे मैनु प्यारे,
जद मै अखा खोल वे वेखा,
चमकन चंद सितारे,
हारा वालिया बंद……..

मेरे रिस्तेदार वे श्यामा देंदे मैनु तक्के,
यह तक्के मै सह नहीं सकदी,
अपनी चरनी रख ले,
हारा वालिया बंद……..

तेरे पीछे श्यामा मै घर विच पाई लड़ाई,
जे तु मैनु दर्श ना देंदा,
होवेगी रुस्वाई,
हारा वालिया बंद………

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा

संग्रह