दुर्गा भवानी आयी रे माँ दुर्गा,
भक्तों की रानी आयी रे माँ दुर्गा,
जोक शेर पे सवार करो माँ ई का दीदार,
आज रात सुहानी आयी रे माँ दुर्गा……

कर ले कर ले तू माँ की पूजा,
माँ ँ के जैसा दुनिया में कोई दूजा,
नाव शक्ति देती है माँ भक्ति देती रे,
आस सुहानी आयी रे माँ दुर्गा…..

ध्यानु भगत मैया तेरा गुण गावे,
कटियाँ शीश चरण में चढ़ावे,
नाव शक्ति देती है माँ भक्ति देती हैं,
आशीष की दानी आयी रे माँ दुर्गा…..

तू जग जननी है तू महामाँ या,
ब्रह्माँ ने माँ नी ना विष्णु ने माँ नी,
ब्रह्माँ की ब्रह्मनी है विष्णुजी की लक्ष्मी है,
हो लक्ष्मी भवानी आयी रे माँ दुर्गा…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा

संग्रह