चला चला रे मैय्या का डोला होले होले, धीरे धीरे,
मैया के भवन में मेरा मन डोले……..

पैर मैया के पायल सोहे,
बिछुए निहारूँ मै तो होले होले,
मैया के भवन में मेरा मन डोले,
चला चला रे मैय्या का डोला होले होले……

अंग मैया के लहंगा सोहे
चुनरी निहारूँ मै तो होले होले,
मैया के भवन में मेरा मन डोले,
चला चला रे मैय्या का डोला होले होले……

हाथ मैया के चूड़ा सोहे
बैठी निहारूँ मै तो होले होले,
मैया के भवन में मेरा मन डोले,
चला चला रे मैय्या का डोला होले होले……

गले मैया के हरवा सोहे,
कान मैया के गूंघटा सोहे
नथनी निहारूँ मै तो होले होले,
मैया के भवन में मेरा मन डोले,
चला चला रे मैय्या का डोला होले होले……

माथ मैया के टीका सोहे,
सिंदूरी निहारूँ मै तो होले होले,
मैया के भवन में मेरा मन डोले,
चला चला रे मैय्या का डोला होले होले……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह