रिमझिम रिमझिम मेघा बरसे,
हो गई सुबह से शाम,
ओ बप्पा कैसे चलेगा काम,
ओ बप्पा कैसे चलेगा काम,
हमने मन में ठाना है,
बप्पा को लेने जाना है॥

आज के दिन लाने का वादा,
किया था पापा तुमने,
पर तैयार होंगे देवा,
रिद्धि सिद्धि के संग में,
जाने भी दो रोको ना पापा,
लेके प्रभु का नाम ,
हमने मन में ठाना है,
बप्पा को लेने जाना है॥

रिंकी बंटी सोनू मोनू,
सब जायेंगे संग में,
नंदू भैया लाया है गाडी,
लेकर खड़े हैं सड़क में,
भैया भाभी अंकल आंटी,
मिलकर चलें तमाम,
हमने मन में ठाना है,
बप्पा को लेने जाना है॥

तेरी जिद भक्ति में डूबी,
तेरे नेक इरादे,
बोलो रघुवीर से जल्दी,
अपनी कार निकाले,
मैं भी चलूँगा लेकर छुट्टी,
छोड़ के सारे काम,
हमने मन में ठाना है,
बप्पा को लेने जाना है,
रिमझिम रिमझिम मेघा बरसे,
हो गई सुबह से शाम,
ओ बप्पा कैसे चलेगा काम,
ओ बप्पा कैसे चलेगा काम,
हमने मन में ठाना है,
बप्पा को लेने जाना है……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा
गौरी व्रत

गुरूवार, 11 जुलाई 2024

गौरी व्रत
देवशयनी एकादशी

बुधवार, 17 जुलाई 2024

देवशयनी एकादशी

संग्रह