दुःख हर्ता बनके सुखकर्ता बनके,
चले आना गजानंद चले आना….

देवा भक्तों में दीपक जलाए,
गणपति जी तुम्हें मनाएं,
रिद्धि साथ लेकर सिद्धि साथ लेकर,
चले आना गजानंद चले आना….

तुम विष्णु रूप में आना,
चक्र हाथ लेकर लक्ष्मी साथ लेकर,
चले आना चले आना चले आना…..

तुम ब्रह्मा रूप में आना,
वेद हाथ लेकर ब्रह्माणी साथ लेकर,
चले आना गजानंद चले आना…..

तुम राम रूप में आना, सीता को संग में लाना,
धनुष हाथ लेकर लक्ष्मण साथ लेकर
चले आना गजानंद चले आना…..

तुम कृष्ण रूप में आना,
राधा को संग में लाना,
मुरली हाथ लेकर दाऊ साथ लेकर,
चले आना गजानंद चले आना……

तुम शंकर रूप में आना,
गोरा मैया को साथ में लाना,
चंदा माथे पर सजे डमरू हाथ लेकर,
चले आना गजानंद चले आना…..

तुम सत्संग बीच में आना,
भक्तों को साथ में लाना,
ढोलक साथ लेकर मजीरा साथ लेकर,
चले आना गजानंद चले आना…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि

संग्रह