सब हाथ जोड़ दरबार में गणपति का ध्यान धरें
आओ छोड़ के सारे काम को गणपति को याद करे

  1. सबसे पहले सतगुरु सेवा
    फेर मनाये गणपति देवा
    करे सरस्वती आराधना माँ से फरियाद करे
    आओ छोड़ के सारे काम को……
  2. लंगर वीरा ज्योत जगाओ
    सब मिलके हनुमान मनाओ
    कर पूजन मेरी मात का जीवन आबाद करे
    आओ छोड़ के सारे काम को……
  3. हाथ उठाकर मारो ताली
    भरलो अपनी झोली खाली
    आओ आज की पावन रात को ना यू बर्बाद करे
    आओ छोड़ के सारे काम को…….
  4. सिद्धि विनायक गजमुख धारी,
    तुम पर सारा जग बलिहारी,
    धनुवंशी प्रीत के साथ मे मिल धन्यवाद करे
    आओ छोड़ के सारे काम को……..
Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह