कीर्तन की तैयारी पधारो श्री गणेश,
उमापति ना जाया भजनों का दो आदेश,
कीर्तन की तैयारी पधारो श्री गणेश,
उमापति ना जाया भजनों का दो आदेश॥

माता गौरी के आंख के तारे,
शिव शम्भू के बप्पा राजदुलारे,
करता हु मैं विनती मेरे काटो सकल क्लेश,
उमापति ना जाया भजनों का दो आदेश,
कीर्तन की तैयारी….

दिन भर काम मे तन को लगाया,
अब जाके मन मे मेरे भाव ये आया,
गुण जो दिए है तुमने, उसका में करू निवेश,
उमापति ना जाया भजनों का दो आदेश,
कीर्तन की तैयारी….

मूसे पे सवार होकर आओ गणराजा,
देखो द्वारे पे तेरे बाजे ढोल बाजा,
मनीष पे बरसे कृपा, मेरे कण्ठे करो प्रवेश,
उमापति ना जाया भजनों का दो आदेश,
कीर्तन की तैयारी पधारो श्री गणेश,
उमापति ना जाया भजनों का दो आदेश…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह