काटो कलेश मन के,
सारे संताप हरो,
विघ्नहर्ता मंगलकर्ता,
जीवन में आनंद भरो….

प्रथम तुम्हारी पूजा से गजानन,
सब काम सफल हो जाते हैं,
शुभ का होता श्री गणेश है,
सुख स्वपन असल हो जाते हैं,
रिद्धि सिद्धि पा जाता है वो,
सिर पे जिसके तुम हाथ धरो,
काटो कलेश मन के,
सारे संताप हरो,
विघ्नहर्ता मंगलकर्ता,
जीवन में आनंद भरो……

देखे जो भी छवि मनोरम,
वो पल में तुम्हारा हो जाता है,
और हो जाए जो तुम्हारा,
वो जग का प्यारा हो जाता है,
मैं भी हो गया हूं भगवन तुम्हारा,
राजीव को अपना लो स्वीकार करो,
मुझे भी अपना लो स्वीकार करो,
काटो कलेश मन के,
सारे संताप हरो,
विघ्नहर्ता मंगलकर्ता,
जीवन में आनंद भरो……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह