आओ हनुमान जी आओ हनुमान जी,
भाव भक्तों से तुमको करते,
कोटि-कोटि प्रणाम जी….

घूंघर घूंघर बाल तुम्हारे,
सिर पर मुकुट संभाले हो,
माथे चंदन राम नाम का,
कानन कुंडल डाले हो,
सब में आप महान जी,
मेरे भगवान जी,
भाव भक्तों से तुमको करते,
कोटि-कोटि प्रणाम जी….

लाल लंगोटा वज्र हाथ में,
आप प्रभु जी धारे हैं,
सब देवों में संकटमोचन,
आप देवता न्यारे हैं,
करें तुम्हारा ध्यान जी,
तुम हो मेरे प्राण जी,
भाव भक्तों से तुमको करते,
कोटि-कोटि प्रणाम जी….

अष्ट सिद्धि नवनिधि के दाता,
तेरा पार न पाया कोई,
सब द्वारो में द्वारा तेरा,
और न दूजा द्वारा कोई,
राजेंद्र का रख मान जी,
दे दो आतम ज्ञान जी,
भाव भक्तों से तुमको करते,
कोटि-कोटि प्रणाम जी….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह