कोई ना साथी कोई ना संगी,
मेरा सब कुछ आप बजरंगी,
तेरे सहारे है जीवन की नैया,
पार लगा दे बजरंगी खबैया,
पार लगा दे बजरंगी खबैया…..

प्रेम से बोलो जय श्री राम,
प्रेम से बोलो जय हनुमान,
प्रेम से बोलो जय हनुमान,
प्रेम से बोलो जय श्री राम…..

भक्तजनों के तुम हो प्यारे,
मन्नत पूरी करते हो हमारे,
रोजना लेने से तेरा नाम,
बन जाते हैं बिगड़े काम,
लागे न साढ़ेसाती और ढैया,
पार लगा दे बजरंगी खबैया…..

प्रेम से बोलो जय श्री राम,
प्रेम से बोलो जय हनुमान,
प्रेम से बोलो जय हनुमान,
प्रेम से बोलो जय श्री राम…..

तेरे दर के सिवा कहाँ मैं जाउँ,
तेरी भक्ति से श्रीराम को पाऊँ,
देखो मुस्कुरा रही सीता मैया,
पार लगा दे बजरंगी खेबैया,
पार लगा दे बजरंगी खेवैया……..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह