पराक्रम से गूँजे त्रिभुवन,
धरती पातल दुस्ट भंजन,
जल सागर करे पराजय क्रन्दन,
त्रिकाल निरंतर लोक वन्दन,
जय हनुमान ज्ञान गुण सागर,
जय किपिस तिहुँ लोक उजगर,
रामदूत अतुलित बल धामा,
अंजनि पुत्र पवनसुत नामा…..

पराक्रम से गूँजे त्रिभुवन,
धरती पतल दुस्ट भंजन,
जल सागर करे पराजय क्रन्दन,
त्रिकाल निरंतर लोक वन्दन,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान……

चेहरे से छलकती नम्रता,
असंखो में शांत चित की छाया,
तुम टेरेनानी टेरेना,
चेहरे से छलकती नम्रता,
आँखों में शांत चित की छाया,
ऊपर है सुबह की लाली,
दिशा सिंदुरलिपि काया,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान…..

महाबीर बिक्रम बजरंगी,
कुमति निवार सुमति के संगी,
कंचन बरन बिराज सुबेसा,
कानन कुंडल कुंचित केसा,
हाथ बज्र और ध्वजा बिराजे,
कांधे मूंज जनेऊ साजे,
शंकर सुवना केसरी नंदन,
तेज़्ज़ प्रताप महा जग वंदन…..

विकत समय निकट जो आये,
प्रथम वहीँ स्मरण आ जाये,
विकत समय निकट जो आये,
प्रथम वहीँ स्मरण आ जाये,
हर विपदा वह दूर करे,
संकट मोचन तभी कहलाये,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान…..

शक्ति की नयी परिभाषा,
विराट विक्रमी रूप अनोखा,
शक्ति की नयी परिभाषा,
विराट विक्रमी रूप अनोखा,
लिये उठाये द्रोणगिरी और,
जग देखे लीला न्यारी,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान…….शक्ति की नयी परिभाषा,
विराट विक्रमी रूप अनोखा,
शक्ति की नयी परिभाषा,
विराट विक्रमी रूप अनोखा,
लिये उठाये द्रोणगिरी और,
जग देखे लीला न्यारी,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान,
महाबली महा रूद्र महा वज्र,
शौर्यवान वीर हनुमान…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

नारद जयंती

शुक्रवार, 24 मई 2024

नारद जयंती
संकष्टी चतुर्थी

रविवार, 26 मई 2024

संकष्टी चतुर्थी
अपरा एकादशी

रविवार, 02 जून 2024

अपरा एकादशी
मासिक शिवरात्रि

मंगलवार, 04 जून 2024

मासिक शिवरात्रि
प्रदोष व्रत

मंगलवार, 04 जून 2024

प्रदोष व्रत
शनि जयंती

गुरूवार, 06 जून 2024

शनि जयंती

संग्रह