तर्ज – तू प्यार है किसी और का तुझे चाहता कोई और है

मेरे सांवरे तुझ बिन नहीं जग में मेरा कोई आसरा,
तूने अगर ठुकरा दिया कही हो ना जाऊ मै बांवरा,
मेरे सांवरे तुझ बिन नहीं जग में मेरा कोई आसरा…..

लोग कहते है तुझको दिलवाला,
हारे भक्तो का भी रखवाला,
कोई आया जो मांगने वाला,
जिसने जो मांगा वो ही दे डाला,
झोली मेरी भी खाली है भर दो इसे अब साँवरा,
तूने अगर ठुकरा दिया कही हो ना जाऊ मै बांवरा,
मेरे सांवरे तुझ बिन नहीं जग में मेरा कोई आसरा…..

सारी दुनिया ने ठुकराया है,
क्या कहू कितना सताया है,
मै जो निर्धन हु तेरी माया है,
क्यों गरीब को मिलता नहीं,
तेरे द्वार पर भी आसरा,
तूने अगर ठुकरा दिया कही हो ना जाऊ मै बांवरा,
मेरे सांवरे तुझ बिन नहीं जग में मेरा कोई आसरा…..

दुनिया ठुकराए मुझको चलता है,
मुझे ना अपनाये ये भी चलता है,
तू ना अपनाये दिल मेरा जलता है,
पर बता दे तू क्यों ना पिघलता है,
तेरा साथ मांगू मै सदा संग प्रीत तेरी सांवरा,
तूने अगर ठुकरा दिया कही हो ना जाऊ मै बांवरा,
मेरे सांवरे तुझ बिन नहीं जग में मेरा कोई आसरा…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह