बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आए बनवारी बरसाने आए बनवारी………..

आज ब्रिज में ओ रंग रसिया,
सखिया है मेरी सारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी……

तोहे पिटेगे लट्ठम लट्ठा जी,
कान्हा भागोगे गिरधारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी………

कान्हा किसके काबू आते,
वो खुद बड़े ख़िलाड़ी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी………

कोई ग्वालन रंग लाए जी,
और कोई मारे पिचकारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी………

बीच चौराहे मची है हुडदंग,
भीड़ बड़ी है भारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी………

पकड़ो पकड़ो नन्द का लल्ला,
पड़ रही है किलकारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी………

रंगों में सराबोर करेगे,
नही चलने दे हुशियारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी………

खूब कमल सिंह फागुन आयो,
बड़ो अछो फसो मुरारी होली खेले राधा प्यारी,
बरसाने आया बनवारी होली खेले राधा प्यारी………

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा

संग्रह