आओ जी आओ घर का देव मनावा
पित्तरा के ढोक लगावा जी
घर का देव मनावा जी
आओ जी आओ घर का देव मनावा

पित्तरा के नाम को गूंजे जय जय कारो
पित्तरा ने ध्यावा हा जी भाग्य हमारो
पिंड में दिवलो म्हे जगावा जी
पिंड में दिवलो जगावा जी
घर का देव मनावा जी
आओ जी आओ घर का देव मनावा

जय जय जय जय पित्तरजी हो थारी
थारी ही शरण आया लाज राखो म्हारी
थारो आशीष म्हे चावा जी
घर का देव मनावा जी
आओ जी आओ घर का देव मनावा

पित्तरा के नाम को नारियल बंधारा
भगत केवे सगळा कारज सुधारा
भगत मंडल सागे गावे जी
घर का देव मनावा जी
आओ जी आओ घर का देव मनावा

आओ जी आओ घर का देव मनावा
पित्तरा के ढोक लगावा जी
घर का देव मनावा जी
आओ जी आओ घर का देव मनावा

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह