डमरू वाले बाबा तुमको आना होगा,
डम डम डमरू बजाना होगा,
माँ गोरा संग गणपति जी को लाना होगा,
डमरू वाले बाबा तुमको आना होगा…..

सावन के महीने में हम कावड़ लेके आएंगे,
पावन गंगा जल से बाबा तुम को नेहलायेगे,
कावड़ियों को पार लगाना होगा,
डम डम डमरू बजाना होगा…..

भांग धरता दूध बाबा तुम पे चढ़ायेगे,
केसरियां चन्दन से बाबा तिलक लगाएंगे,
भगतो का कष्ट मिटाना होगा,
डम डम डमरू बजाना होगा…..

तू तो भोले दानी बाबा जग से निराला है,
हाथो में तिरशूल गले सरपो की माला है,
नंदियां पे चढ़ कर आना होगा,
डम डम डमरू बजाना होगा…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह