जय हो गंगाधारी, जय हो भोले भंडारी,
झुकती सारी दुनिया सारी झुकती,
तू आदि शिव नारी, जय हो भोले भंडारी,
जय हो गंगाधारी, जय हो भोले भंडारी……

भोले शिव मेरे वरदानी,
भोले देते दाना पानी,
जपते सब नर नारी, जय हो भोले भंडारी,
जय हो गंगाधारी, जय हो भोले भंडारी……

भेल पत्र जो भी चढ़ाते,
भोले का वरदान है पाते,
खुशियां मिलती है सारी, जय हो भोले भंडारी,
जय हो गंगाधारी, जय हो भोले भंडारी……

बम बम भोले जो है जपते,
रोग दोष सब है कटते,
झुकती दुनिया सारी, जय हो भोले भंडारी,
जय हो गंगाधारी, जय हो भोले भंडारी……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह