जपले महाकाल का नाम तेरे बनेंगे बिगड़े काम,
तेरे बनेंगे बिगड़े काम तेरे बनेंगे बिगड़े काम,
जपले महाकाल का नाम………..

मेरा बाबा महाकाल तो तिन लोक का दाता है,
जो भी मेरे शिव की महिमा प्रेम भक्ति से गाता है,
पावन नगरी उज्जैनी में क्षिप्रा टत है धाम,
जपले महाकाल का नाम…..

क्षिप्रा माँ के पावन टत पर हर हर शिव शिव गाऊँ,
भक्तो और संतो के बिच में शिव की धुनी रमाऊँ,
एक बार शिव प्रेम से बोलो मिल जाए आराम,
जपले महाकाल का नाम………….

नाम तू जपले सुमिरन करले शिव की महिमा गाले
मुक्ति तुझको मिल जाएगी शिव का ध्यान लगाले
महाकाल के श्री चरणों में बसते चारो धाम
जपले महाकाल का नाम………….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह