महाकाल राजा दे दे ,
उज्जैन का राजा दे दे,
थारे भरियो भंडार टो टो ना पड़े रे……

जिसने भी बाबा दर पर अर्जी लगाई रे,
वणीने बनायो थे तो सेठ रे,
मने का तरसावे दे दे,
महाकाल राजा दे दे ,
उज्जैन का राजा दे दे,
थारे भरियो भंडार टो टो ना पड़े रे……

म्हारे खावाने कोनी आलरी रे,
तू तो आरोगे लड्डू को भोग रे,
मने एक निवालों दे दे,
महाकाल राजा दे दे,
उज्जैन का राजा दे दे ,
थारे भरियो भंडार टो टो ना पड़े रे…..

तू तो बिराजो मंदिर महल मे रे,
म्हारे गारा की काची भीत रे,
मकान बनानो दे दे,
महाकाल राजा दे दे,
उज्जैन का राजा दे दे ,
थारे भरियो भंडार टो टो ना पड़े रे…….

महाकाल राजा दे दे,
उज्जैन का राजा दे दे,
थारे भरियो भंडार टो टो ना पड़े रे…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह