तर्ज:- ॐ जय शिव ओमकारा

ॐ जय शिव जय महाकाल,
स्वामी जय शम्भू महाकाल,
ज्योतिर्लिंग स्वरूपा,
ज्योतिर्लिंग स्वरूपा,
तुम कालो के काल,
ओम जय शिव जय महाकाल…..

बारह ज्योतिर्लिंग में,
महिमा बड़ो है नाम,
क्षिप्रा तट उज्जैन में,
महाकाल को धाम,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

तुम भीमेश्वर देवा,
तुम काशी विश्वनाथ,
गोमती तट त्रयंभकेश्वर,
दारूकवन नागनाथ,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

हाथ जोड़ तेरे द्वारे,
काल खड़ा लाचार,
सुर नर असुर चराचर,
सब के हो करतार,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

चिता भस्म से तेरो,
नित नित हो श्रृंगार,
भक्तन का मन मोहे,
तेरो रूप निहार,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

भस्म आरती तेरी,
अद्भुत है भगवन,
भाग्यवान नर नारी,
पाएं शुभ दर्शन,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

साथ में गणपति गौरा,
कार्तिक है देवा,
द्वार खड़े है नंदी,
नित उठ करे सेवा,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

जो जन तेरा दर्शन,
श्रद्धा से कर जाए,
मौत अकाल ना आए,
सुख वैभव पा जाए,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

महाकाल की आरती,
जो नर नारी गाए,
कहत महेश प्रभु से,
मन इच्छा फल पाए,
ओम जय शिव जय महाकाल।।

ॐ जय शिव जय महाकाल,
स्वामी जय शम्भू महाकाल,
ज्योतिर्लिंग स्वरूपा,
ज्योतिर्लिंग स्वरूपा,
तुम कालो के काल,
ओम जय शिव जय महाकाल…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह