हाथो में मेहंदी पेरो में रोली,
शिव जी रंग शक्ति रंगोली,
प्रेम रंग वो लगा के बोली,
आँखे खोलो प्रभु आई होली……

शिव शंकर मेरा प्यारा,
बड़े दिल वाला मेरा भोला भला है……

भांग पीते के चिलम खिच के झूम भूतों की टोली,
भर भर मठके खुद पी जाए.. लगे गरज सी बोली…
गंगा बहा भोले मुझको भीगा दे,
अपने ही रंग में मुझे हमको रंगा ले,
तेरा तो मैं हूं बालक प्यारा, बड़े दिल वाला,
मेरा भोला भला है,
शिव शंकर मेरा प्यारा,
बड़े दिल वाला मेरा भोला भला है……

मुस्कान देख के भोले की गौर मैया हुई दीवानी,
शिव प्रेम में देखो रंगी हुई सुख छोड़ महल की रानी…..

तेरी अदा भोले सबसे जुदा,
गौरा मैया ही नहीं पूरी दुनिया फिदा,
खोले तू किस्मत का ताला, बड़े दिल वाला मेरा भोला भला है,
शिव शंकर मेरा प्यारा,
बड़े दिल वाला मेरा भोला भला है……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह