|| ॐ सों सोमाय नम: ||

|| ॐ श्रां श्रीं श्रौं सः चन्द्रमसे नमः ||

।। श्वेतांबरः श्वेता विभूषणस्चा श्वेता धुयातिर दंडाधारो द्विबाहुहु चंद्रो मृत्युत्मा वरदः किरीती माई प्रसादम् विधातु देव:।।

।। दधि शंख तुषारबम क्षीरोदर्णव संभवम् नमामि शशिनं सोमं शम्भोर मुकुटभूषणम् ।।

|| ॐ पद्मद्वाजय विधमहे हेमा रूपया धीमेहे तन्नो चंद्र प्रचोदयत ||

।। सिंहः प्रसेनमवधीत् सिंहो जाम्बवता हतः सुकुमारक मा रोदीस्तव ह्येष स्यमन्तकः ।।

ॐ भागमलिन्यै नमः।

ॐ कामेश्वरयै नमः।

ॐ वज्रेश्वरयै नमः।

|| दधिशंखतुषाराभं क्षीरोदार्णव सम्भवम नमामि शशिनं सोमं शम्भोर्मुकुटभूषणम् ||

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी

संग्रह