लाल लाल लाल मैया का चोला लाल……..

माँ के दवारे पांडव आए जय हो जय हो जय हो,
आके उन्होंने भवन बनाए जय हो जय हो जय हो,
भवन बना के शीश झुका के बोले जय जयकार,
लाल लाल लाल मैया का चोला लाल……..

माँ के द्वारे अकबर आया जय हो जय हो जय हो,
आकर उन्होंने छत्तर चढ़ाया जय हो जय हो जय हो,
छत्तर चढ़ के शीश झुका के बोले जय जयकार,
लाल लाल लाल मैया का चोला लाल……..

माँ के दवारे दानव आए जय हो जय हो जय हो,
आकर उन्होंने शीश कराए जय हो जय हो जय हो,
शीश झुका के शीश काटा के बोले जय जयकार,
लाल लाल लाल मैया का चोला लाल……..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह