तेरा मेरा नाता कभी टूटे ना मैया जी,
जग सारा रूठ जाए रुठना ना मैया जी……..

भगवान की अदालत में पेश जब होउ मैं,
आगे वकील बन के खड़ी रहना मैया जी,
तेरा मेरा नाता कभी टूटे ना मैया जी…..

मेरे गुनाहों की किताब जब खोली जाए,
तेरे हाथों में कमल दवात हो मैया जी,
तेरा मेरा नाता कभी टूटे ना मैया जी…..

मैं तेरी पंतग डोर तेरे हाथों में,
भूल के भी डोर मत छोड़ना मैया जी,
तेरा मेरा नाता कभी टूटे ना मैया जी…..

भव सागर से पार जब होउ मैं,
आगे तुम मल्हार बन के खड़ी रहना मैया जी,
तेरा मेरा नाता कभी टूटे ना मैया जी…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा

संग्रह