गणपत जी महाराज तेरी लीला न्यारी से,
बाबा आके पधारो कर मूसे की सवारी से……

बड़ी देर से देखे बाट, तेरे सारे भगत बुलावे,
मूसे ऊपर बैठ के देखो गणपति बाबा आ रे,
गणपत जी महाराज तेरी लीला न्यारी से,
बाबा आके पधारो कर मूसे की सवारी से……

सब देवो में सबसे पहले तुझको पूजा जावे,
मोटे मोटे मोदक से बाबा तुझको भोग लगावे,
गणपत जी महाराज तेरी लीला न्यारी से,
बाबा आके पधारो कर मूसे की सवारी से……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी

संग्रह