मेरे गणपत जी महाराज, आज मेरे कीर्तन में आओ,
कीर्तन में आओ देवा कीर्तन में आओ,
मेरे गणपत जी महाराज, आज मेरे कीर्तन में आओ…..

देवा सब देवो में पहले देखो पूजे जाते है,
पूजे जाते है के देवा पूजे जाते है,
मेरे गणपत जी महाराज, आज मेरे कीर्तन में आओ…..

मेरे गणपत जी महाराज देखो मोदक खाते है,
मोदक खाते है देवा मोदक खाते है,
मेरे गणपत जी महाराज, आज मेरे कीर्तन में आओ…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा
गौरी व्रत

गुरूवार, 11 जुलाई 2024

गौरी व्रत
देवशयनी एकादशी

बुधवार, 17 जुलाई 2024

देवशयनी एकादशी

संग्रह