दोहा : गौरा जी के लाडले, तुम सबके आधार।
प्रथम मनावें आपको, तो हो जाये बेड़ा पार।।

तेनुं पूज रहे मिल सारे, गणपति बप्पा मोरेया।
तेरा जग विच चानण सारे, गणपति बप्पा मोरेया।।

आदि गणेश, ब्रम्हा, विष्णु मनावें
शिव शंकर वी तेरा यश गावें
मैया गौरा दी अखाँ दे तारे। – गणपति बप्पा मोरेया..

गुणीजन, मुनिजन तेरा यश गावण
कथा कीर्तन पहला ध्यावण
तेरे नाम दे बोल जयकारे। – गणपति बप्पा मोरेया..

व्याह शादी शुभ मंगल प्यारे
सबतों पहलां आप पधारे
तुहाडी कीर्ति गूंजे जग सारे। – गणपति बप्पा मोरेया..

पान – सुपारी, तुन्दल – मेवा
धुप दीप फुल्ला दी सेवा
रोली – मोली, चन्दन स्वीकारें। – गणपति बप्पा मोरेया..

‘प्रेम’ प्यार नाल अर्ज लगावें
महावीर मंडल तेरा यश गावे
तेरे दर ते अर्ज गुजरे। – गणपति बप्पा मोरेया..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह