गौरी के लाल लाडले, महिमा तेरी महान,
ब्रह्मा पूजे, विष्णु पूजे, पूजे सकल जहाँन,
गौरी के लाल लाडले, महिमा तेरी महान।।

एक दन्त दयावंत चार बुजाधारी,
माथे पे सिन्दूर सोहे मूसे की सवारी,
लक्ष्मी पूजे, गौरा पूजे, पूजे सकल जहाँन,
गौरी के लाल लाडले, महिमा तेरी महान।।

पान चढ़े फूल चढ़े और चढ़े मेवा,
लड्डुन का भोग लगे संत करे सेवा,
गौरा पूजे, लक्ष्मी पूजे, पूजे सकल जहाँन,
गौरी के लाल लाडले, महिमा तेरी महान।।

अंधे को आँख देते, कोढ़िन को काया,
बांझन को पुत्र देते, निर्धन को माया,
ब्रह्मा पूजे, विष्णु पूजे, पूजे सकल जहाँन,
गौरी के लाल लाडले, महिमा तेरी महान।।

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह