सुखो के दाता देवा, इन्हे घर में बुलाना होगा,
दुःख हरता दाता देवा, इन्हे दिल में बसाना होगा,
पल भर में दुखड़े हरके सब बिगड़े काम बनाये,
ऋषियो और योगी सारे देवा के गुण गाये,
सुखो के दाता देवा, इन्हे घर में बुलाना होगा,
दुःख हरता दाता देवा, इन्हे दिल में बसाना होगा।।

भक्तों की आशाओ को ये पल में पूरी करते,
निर्धन और गरीब की झोली देवा सबकी भरते,
शिव गौरा के गणपती इनको मनाना होगा,
सुखो के दाता देवा, इन्हे घर में बुलाना होगा,
दुःख हरता दाता देवा, इन्हे दिल में बसाना होगा।।

भोग लगाकर लड्डुओं का हे गणपती तुम्हे बुलाये,
भोग लगाकर मोदकों का हे देवा तुम्हे मनाये,
रिद्धि सिद्धि के स्वामी हमे शीश झुकाना होगा,
सुखो के दाता देवा, इन्हे घर में बुलाना होगा,
दुःख हरता दाता देवा, इन्हे दिल में बसाना होगा।।

मूसे की सवारी देखो लम्बोदर को भाये,
पीताम्बर है पहन के देवा सुखो को बरसाए,
गौरा माँ के लाडले को दिल में बसाना होगा,
महादेव के लाडले को दिल में बसाना होगा,
सुखो के दाता देवा, इन्हे घर में बुलाना होगा,
दुःख हरता दाता देवा, इन्हे दिल में बसाना होगा।।

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह