मन मेरा आखदा शेरेआलिये,
इकवारी दर्श दिखा,
ओ दातिये इक वारी दर्श दिखा,
शेरांवालडिये ओ मेहरावालडिये,
शेरांवालडिये ओ मेहरावालडिये,
मन मेरा आखदा शेरेआलिये……

विच पहाड़े मंदिर तेरा लाया ही भगते डेरा,
लाया ही भगते डेरा, लाया ही भगते डेरा,
भेंटा गाई-गाई नचदे ने सारे करदे ने दर्शन तेरा,
करदे ने दर्शन तेरा, करदे ने दर्शन तेरा,
लांदे जयकारे भेंटा वी गांदे इक वारी फेरा पा,
ओ दातिये इक वारी फेरा पा,
मन मेरा आखदा शेरेआलिये……

अंदर मैया तेरी ज्योत चमकदी बाहर पवे लिशकारा,
बाहर पवे लिशकारा, बाहर पवे लिशकारा,
जय जय मैया शेरेआली लांदे लोग जयकारा,
लांदे लोग जयकारा, लांदे लोग जयकारा,
झोलियां तू भरनी दुखड़े तू हरनी मेरे वी कष्ट मिटा,
ओ दातिये मेरे वी कष्ट मिटा,
मन मेरा आखदा शेरेआलिये……

पापीगे तू पले च मारे, चंडी दा रूप बनाइये,
चंडी दा रूप बनाइये, चंडी दा रूप बनाइये,
भगतेगी तू करे जे तारे वैष्णों दा रूप बनाइये,
वैष्णों दा रूप बनाइये, वैष्णों दा रूप बनाइये,
असी वी तारी जा शेरेआलिये इक वारी तू सामने आ,
ओ दातिये इक वारी तू सामने आ,
मन मेरा आखदा शेरेआलिये……

सावन महीना आई गया माँ दा असे प्रीता लाईया,
असे प्रीता लाईया, असे प्रीता लाईया,
भगतेगी तुगी याद ना आई लमिया तरीका पाईया,
लमिया तरीका पाईया, लमिया तरीका पाईया,
नरातेयां च लगदा मेला नी दातिये,
मने आला मुखटा रिझा,
ओ दातिये मने आला मुखटा रिझा,
मन मेरा आखदा शेरेआलिये……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह