गौरी के पुत्र गणेश शारदा तोहै सुमुरू….

कहां बैठेंगी मात शारदा कहां पर गौरी गणेश,
कहां बैठेंगे गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

मंदिर बैठी मांत शारदा आले‌ गौरी गणेश,
ऊंचे सिंहासन गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

क्या पहनेगी मां शारदा क्या पहने गौरी गणेश,
क्या पहनेंगे गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

लहंगा पहने मां शारदा पटका गौरी गणेश,
पीला पितांबर गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

क्या खाएंगी मां शारदा क्या खामे गोरी गणेश,
क्या खाएंगे गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

हलवा खावे मां शारदा लड्डू गौरी गणेश,
मेवा खावे गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

क्या कुछ देंगी मात शारदा क्या दें गौरी गणेश,
क्या देवेगे गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

अन्न धन देगी मां शारदा बुद्धि गौरी गणेश,
ज्ञान ध्यान दें गुरु हमारे ब्रह्मा विष्णु महेश,
शारदा तोहै सुमिरू….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि

संग्रह