जय जय जय देवा
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी,
तुम्ही दुखियों के हा,
तुम्ही दुखियों के दुखहर्ता सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी……

देवा देवा रची हुई यह सारी सृष्टि,
तुझमे देखु तुझमे देखु,
तुम ही जगत के हो,
तुम ही जगत के हो रखवैया सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी……..

मन में लेकर,
मन में आशाओं को लेकर,
द्वार तुम्हारे द्वार तुम्हारे,
जो जन आये,
जो जन आये तुम से कहता सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी…….


रूप गजानन गौरी नंदन,
हा
रूप गजानन गौरी नंदन,
रूप गजानन गौरी नंदन,
कहलाओ तुम कहलाओ तुम,
तुम हो सबके,
तुम हो सबके भाग्य विधाता सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी…….

स्वामी स्वामी,
तीन लोक के देव देवता,
तुमको पूजे तुमको पूजे,
सबकी करते हो,
सबकी करते हो तुम रक्षा सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी…….


मेरो हाल तो तुम जानत हो हा,
मेरो हाल तो तुम जानत हो,
मेरो हाल तो तुम जानत हो,
अंतर्यामी अंतर्यामी,
और कहूँ क्या,
और कहूँ क्या तुम से दाता सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी,
तुम्ही दुखियों के,
तुम्ही दुखियों के दुखहर्ता सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी,
जय जय जय श्री गणपती देवा सुनो हमारी……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा
गौरी व्रत

गुरूवार, 11 जुलाई 2024

गौरी व्रत
देवशयनी एकादशी

बुधवार, 17 जुलाई 2024

देवशयनी एकादशी

संग्रह