जय जय गणेश जय श्री गणेश
आये तेरे दर हम खड़े है हाथ जोड़ कर
कर दो तुम किरपा भटके न हम दरबदर ,
तू को पूजे दुनिया सारी हे महिमा बड़ी तुम्हारी
जरा हम पे भी कर दो गणेशा दया की नजर
आये तेरे दर हम खड़े है हाथ जोड़ कर

दूर है मंजिल दूर किनारे
हम तो है बस तेरे सहारे,
मेरी मुरादे करदो पूरी
आये है हम तेरे द्वारे,
बीच में नैया भवर में डूब न जाए
आप ही बोलो गणेशा हम कहा जाये,
तेरे चरणों के पुजारे सुनो विनती यही हमारी
जरा हम पे भी करदो गणेशा दया की नजर,

तुम विघ्नेश्वर हो हे विघंहर्ता
हर संकट को हर लेते हो,
आया जो भी द्वार तुम्हारे
उस की झोली भर देते हो
हम भी चोकठ पे खड़े है देर ना करना
दूर चरणों से हमे भी आप न करना
हो भगतो के हित कारी करो मूषक की सवारी
जरा हम पे भी करदो गणेशा दया की नजर
आये तेरे दर हम खड़े है हाथ जोड़ कर

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह