हीरो का चमकता कैलाश हो शम्भू जैसा पिता हो,
जीस घर में देवा आ जाये, उस घर में सदा तेरा वास हो…..

ये लड्डू आपके भोग है, ये मुशक है सवारी,
आप जब भी ऐसे आते हो रिद्धि सिद्धि यू सरमाती,
सब भक्त आज ये देखे हे तुम तो ऐसे विनायक हो,
जीस घर में देवा आ जाये…..

ये सिद्धि विनायक देवा है, सब देवो के भी देवा,
मेरे गणपति जैसा कोई नहीं इसके सिवा मेरा कोई नहीं,
मेरा गणपति है सब लाखो में मेरे विघ्न काटे हाथो से,
ये गणपति है सब भक्तो के,
जीस घर में देवा आ जाये…..

जिस घर में आप बैठे हो कोई विघ्न भी न पास आये,
जब नाम आपका लेते है सब बिगड़े काम बनते है,
ये धरम तंवर भजन सुनाये सब कारज इनके पुरे हो,
जीस घर में देवा आ जाये…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह