सुनलो गणपति जी महाराज घर में तुम्हे बुलाते है
तुम्हे बुलाते है देवा तुम्हे बुलाते है,
सुनलो गणपति जी महाराज घर में तुम्हे बुलाते है

लड्डू चडाते देवा तुम को मोदक चडाते है,
बड़े चाव से देवा दिल में तुम्हे वसाते है,
सुनलो गणपति जी महाराज घर में तुम्हे बुलाते है

झूम झूम कर मुस्क देखो गणपति जी का नाचे
करके मुसक सवारी देवा देखो आते है
सुनलो गणपति जी महाराज घर में तुम्हे बुलाते है

माँ गोरा के लाडले तुम तो विगनो को हो हरते,
खुशियों से झोली देवा तुम तो भगतो की हो भरते
रिधि सीधी के स्वामी तुम्हे शीश झुकाते है,
सुनलो गणपति जी महाराज घर में तुम्हे बुलाते है

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि

संग्रह