बल बुद्धि के दाता मेरे गणपति
तेरे चरणों में सिर को नमन कर दिया
बल बुद्धि के दाता मेरे गणपति

तुम्हे मोदक चडाऊ सिंदूर अर्पण करू
तेरे चरणों में जीवन समर्पण करू
बल बुद्धि के दाता मेरे

सब दाता में पेहले तेरा पूजन करो
तेरी भगती में देवा मैं खुद को रंगु
बल बुद्धि के दाता मेरे

गोरा ले लाल शिव जी के प्यारे हो तुम,
नंदी बंदी शिव घन के दुलारे हो तुम
बल बुद्धि के दाता मेरे

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह