विद्या बुद्धि देऊ महाराज, गजानंद गोरी के लाला,
गौरी के लाला, गजानंद गोरी के लाला,
विद्या बुद्धि देऊ महाराज, गजानंद गोरी के लाला॥

पिता तुम्हारे शिव शंकर हैं, मस्तक पर चंदा,
मात तुम्हारी पार्वती है, पूजे जग सारा,
विद्या बुद्धि देऊ महाराज, गजानंद गोरी के लाला॥

मूषक वाहन सुढ सुडाला रूप तेरा चांगा,
गले वैजयंती माला सोहै, चढ़े पुष्पगंधा,
विद्या बुद्धि देऊ महाराज, गजानंद गोरी के लाला॥

जो जन तुम को नहीं मानते उनका भाग मांदा,
जो जन तुमरी करें साधना, खूब चले धंधा,
विद्या बुद्धि देऊ महाराज, गजानंद गोरी के लाला॥

रिद्धि सिद्धि के तुम दाता, विघ्न हरण करता,
मोदक लड्डू भोग तुम्हारा, हाथ सोहे फरसा,
विद्या बुद्धि देऊ महाराज, गजानंद गोरी के लाला……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह