हे मारुती सारी राम कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में,
हे मारुती सारी राम कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में,
दुनिया भर की भक्ति का,
भंडार तुम्हारी आँखों में,
हे मारुती,
हे मारुती सारी राम कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में….

जय जय बजरंगबली,
जय जय जय बजरंगबली….

लंका को तुम्ही ने जलाया था,
जलाया था जलाया था,
रावण को तुम्ही ने हिलाया था,
हिलाया था हिलाया था,
संजीवन बूटी लाकर के,
संजीवन बूटी लाकर के,
लक्ष्मण को तुम्ही ने जिलाया था,
जिलाया था जिलाया था,
रहते है सदा रघुनन्दनजी,
साकार तुम्हारी आँखों में,
हे मारुती,
हे मारुती सारी राम-कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में…….

जय जय बजरंगबली,
जय जय जय बजरंगबली….

तुम सचमुच संकट मोचन हो,
संकट मोचन हो,
संकर की तरह त्रिलोचन हो,
त्रिलोचन हो,
जिस पर हो तुम्हारी कृपा उसे,
कभी कष्ट न हो कभी सोच न हो,
चिंता को काट के रखदे वो,
तलवार तुम्हरी आँखों में,
हे मारुती,
हे मारुती सारी राम-कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में…..

जय जय बजरंगबली,
जय जय जय बजरंगबली….

हे मारुती सारी राम कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में,
हे मारुती सारी राम कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में,
दुनिया भर की भक्ति का,
भंडार तुम्हारी आँखों में,
हे मारुती,
हे मारुती सारी राम-कथा का,
सार तुम्हारी आँखों में……

जय जय बजरंगबली,
जय जय जय बजरंगबली….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह