खाटू वाले श्याम तेरा सब पर बड़ा ही ऐहसांन है,
हार कर आता जो भी, एकबार, लेता उसे संभाल है…..

एक ना एक दिन हम भी तो हारे ही तो थे,
श्याम के सीवा दिखा ना था मुझको किनारा,
अंत मे मैं भी तो आया हू, तेरे इसी दर पे,
खाटू वाले श्याम तेरा सब पर बड़ा ही ऐहसांन है….

खाटू वाले तुमको तो सौप दी ये जीवन की नईया,
इस जीवन मे क्या होगा नही जनता मैं भगवन्,
जो भी होगा बस उसमे तुम अपनी कृपा देना,
खाटू वाले श्याम तेरा सब पर बड़ा ही ऐहसांन है….

बाबा हम तो अज्ञानी है, ज्ञान दे दो हमें,
लेकिन इतना ही देना कि आपके लायक रहूँ मैं,
कुछ दो या ना दो लेकिन अपने गले लगा लो मुझे,
खाटू वाले श्याम तेरा सब पर बड़ा ही ऐहसांन है….

गलती मुझसे बहुत हुई है छमा माँगता हू मैं,
आपकी कृपा से तो सदमार्ग पे हू मैं,
“सत्यम “कहता है आपसे साथ ना छूटे तुमसे,
खाटू वाले श्याम तेरा सब पर बड़ा ही ऐहसांन है….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह