खाटूवाले की हर बात निराली है,
जो भी दर पे आये करता रखवाली है,
मेरा श्याम धणी, खाटू श्याम धणी…..

तेरे तीन बाण ने तो इतिहास बना डाला,
मुरली वाले ने भी बंसी वाले ने भी अपना नाम लुटा डाला,
मेरा श्याम धणी, खाटू श्याम धणी…..

मुझे वचन मोरवी माँ मैं हारे का सहारा रहूँगा,
जो भी दर पे आएगा मैं उसके पाप हारूंगा,
मेरा श्याम धणी, खाटू श्याम धणी……

अरविन्द भी दर तेरे सब हार के आया है,
मेरे श्याम कृपा करना खाटू वाले कृपा करना मुझे तेरा सहारा है,
मेरा श्याम धणी, खाटू श्याम धणी……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह