आवे हिचकी जी मन्ने आवे हिचकी,
खाटूवाला याद करे सतावे हिचकी,
आवे हिचकी………..

म्हारे आँगन बेरनी का मीठा मीठा बेर,
श्याम धणी इब दर्शन देदो क्यों लगाओ देर,
जी मन्ने, जी मन्ने, जी मन्ने आवे हिचकी,
आवे हिचकी………..

म्हारे आँगन बेरनी के हरे भरे से बाग़,
खाटू वाले श्याम बाबा आवे थारी याद,
जी मन्ने, जी मन्ने, जी मन्ने आवे हिचकी,
आवे हिचकी………..

कण कण में ओ लीले आले थारा रूप समाया,
शीश के दानी है बलिदानी अजब है थारी माया,
जी मन्ने, जी मन्ने, जी मन्ने आवे हिचकी,
आवे हिचकी………..

मोना तेरी दासी बाबा तेरा भजन बनावे,
दर्शन देदे प्रिन्स ने बाबा सोया भाग जगा दे,
जी मन्ने, जी मन्ने, जी मन्ने आवे हिचकी,
आवे हिचकी………..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा

संग्रह