इस दुनिया में श्याम नाम का खड़का हो रया सै,
पॉकेट में कुछ नहीं है फिर भी खर्चा हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै…..

फूलो की बगियन में बैठा शीश सुहाना सै,
जहाँ भी देखु हर कोई बाबा तेरा दीवाना सै,
दिल्ली जयपुर तेरा दीवाना सरसा हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै…..

इस कीर्तन में देख ले बाबा हर कोई आया सै,
साज़ों के संग बजा के ताली भजन सुनाया सै,
इस कीर्तन में कहाँ से इतना खर्चा हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै……

इस बनिए के छोरे को बाबा तेरा नाम ही भावे सै,
शाम सवेरे दिन में रात में तेरा नाम ध्यावे सै,
तेरा नाम ही लेके राम सावरिया हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै,
तू माने या माने श्याम तेरा चर्चा हो रया सै……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती
संकष्टी चतुर्थी

मंगलवार, 25 जून 2024

संकष्टी चतुर्थी
योगिनी एकादशी

मंगलवार, 02 जुलाई 2024

योगिनी एकादशी
मासिक शिवरात्रि

गुरूवार, 04 जुलाई 2024

मासिक शिवरात्रि
जगन्नाथ रथ यात्रा

रविवार, 07 जुलाई 2024

जगन्नाथ रथ यात्रा

संग्रह