जपते रहो हरि नाम हो…..
तुलसी जी का माला

  1. कहवा से आवे राम से लक्ष्मण 2
    कहवा से आवे हनुमान हो….
    तुलसी जी का माला…
  2. अवधपुरी से आवे राम से लक्ष्मण 2
    लंका से हनुमान हो…..
    तुलसी जी का माला…
  3. काहे करन के आवे राम से लक्ष्मण 2
    काहे करन हनुमान हो…..
    तुलसी जी का माला…….
  4. धनुष तोरन के आवे राम से लक्ष्मण 2
    लंका जलावे हनुमान हो…….
    तुलसी जी का माला……..

जपते रहो हरि नाम हो…….
तुलसी जी का माला……..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह