राम जपले जिंदड़िये नी,
ऐत्थे बैठ किसी ने ना रहना,
नाम जपले जिंदड़िऐ नी,
ऐत्थे बैठ किसी ने ना रहना,
ऐत्थे बैठ किसी ने ना रहना,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना,
नाम जपले जिंदड़िये नी,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना.

जद काल ने पाणा घेरा,
फेर बस भी ना चलना तेरा,
जद काल ने पाणा घेरा,
फेर बस भी ना चलना तेरा,
ओथे राम दा लगना डेरा,
फेर पूछना कित्ता तेरा,
फिर कल पछताणा वे जिंदड़िये,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना,
नाम जपले जिंदड़िये नी,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना…….

राम नाम की लूट पड़ी है,
लूट सके तो लूटो,
अंत समय पछतायेगा,
अंत समय पछताएगा,
जब प्राण जावेंगे छूटो, छूटो,
राम नाम की लूट पड़ी है,
लूट सके तो लूटो,
रे भाई लूट सके सो लूटो,
क्या हिन्दू क्या मुस्लिम बाबा,
क्या हिन्दू क्या मुस्लिम बाबा,
क्या सिख क्या ईसाई,
राम नाम की लूट पड़ी है,
लूट सके तो लूटो……

ना बाप तेरे ना माई,
ना बहन तेरी ना भाई,
ना बाप तेरे ना माई,
ना बहन तेरी ना भाई,
फिर कल पछताणा वे जिंदड़िये ,
बैठ किसी ने ना रहना,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना,
नाम जपले जिंदड़िये नी,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना……

रोवे जनम जनम माँ तेरी,
तेरी बहन रोवे छै मासे,
रोवे जनम जन्म माँ तेरी,
तेरी बहन रोवे छे मासे,
तेरी नार रोवे सो दिहाड़े,
फेर करदी से करवासे,
फिरि बस भी ना चलणा वे,
जिंदड़िये , बैठ किसी ने ना रहना…….

राम जपले जिंदड़िये नी,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना,
नाम जपले जिंदड़िये नी,
ऐथे बैठ किसी ने ना रहना

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह