अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में………

तेरे शीश पे गंगा बहती है,
मैं गोता लगाऊं सुबह शाम,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में………

तेरे माथे पर चंदा सजता है,
मैं दर्शन पाऊं सुबह शाम,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में………

तेरी गली में नागों की माला,
मैं दूध पिलाऊं सुबह शाम,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में………

तेरे हाथों में डमरु बजता है,
मैं धुन पर नाचूं सुबह शाम,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में………

तेरे संग में गौरा सजती है,
वरदान में पाऊं सुबह शाम,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में………

तेरी गोद में गणपत लाला है
पूजा में कर लूं सुबह शाम,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में………

तेरे संग में नंदी सोह रहे,
पर्वत पर घूमो तेरे साथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में………

अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में,
मेरे सिर पर रख दो अपना हाथ,
मस्त रहो तेरी मस्ती में,
अब दया करो मेरे भोलेनाथ,
मस्त रहूं तेरी मस्ती में………

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

राम नवमी

बुधवार, 17 अप्रैल 2024

राम नवमी
कामदा एकादशी

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2024

कामदा एकादशी
महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी

संग्रह