तू ही कर्ता धर्ता सबका, सबके तारण हारे,
तेरा आश्रय पाके भगवन, तेरे ही गुण गाये,
मन मेरा गाये ॐ नमः शिवाय…..

गुण मैं प्रभु के निश दिन गाऊँ, श्रद्धा से पूरित हो जाऊँ,
शुभ कर्मों के दीप जलाऊँ, प्रेम अश्रु से चरण पखाऊँ,
भाव विभोर होके भक्ति से, तुममें ही बस जाये,
मन मेरा गाये ॐ नमः शिवाय…..

अर्यमा तू है अविनाशी, व्याप्त चराचर में तू स्वामी,
कबसे मैं दर्शन की प्यासी, मैं तो हूँ तेरी ही दासी,
तेरे सिवा मेरे प्राणों को और कोई न भावे,
मन मेरा गाये ॐ नमः शिवाय…..

हम सुत तेरे श्रेष्ठ बना दो, ज्ञान की गंगा तुम बरसा दो,
भटक रहे हम राह दिखाओ, जीवन नैया पार करा दो,
आश से पूरित हो मन मेरा अब तुमको ही चाहे,
मन मेरा गाये ॐ नमः शिवाय…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मोहिनी एकादशी

रविवार, 19 मई 2024

मोहिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 19 मई 2024

प्रदोष व्रत
प्रदोष व्रत

सोमवार, 20 मई 2024

प्रदोष व्रत
नृसिंह जयंती

मंगलवार, 21 मई 2024

नृसिंह जयंती
वैशाखी पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

वैशाखी पूर्णिमा
बुद्ध पूर्णिमा

गुरूवार, 23 मई 2024

बुद्ध पूर्णिमा

संग्रह